नैनीताल ।  राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद ने प्रदेश सरकार से 4 प्रतिशत भत्ते की घोषणा, कर्मचारियों की वेतन एवं गोल्डन कार्ड की विसंगतियां को आचार संहिता से पहले ठीक करने की मांग है ।

 

शनिवार को परिषद की ऑन लाइन हुई जनपद की ऑनलाइन बैठक में परिषद के जिलाध्यक्ष असलम अली ने कहा कि प्रदेश सरकार को केंद्र की सरकार की तरह महंगाई भत्ते महंगाई भत्ता बढ़ाने की घोषणा कर देनी चाहिए। क्योंकि यदि शीघ्र आचार संहिता लग जाती है तो राज्य के कर्मचारियों को जून से पहले लाभ मिलना मुश्किल हो जाएगा।

ALSO READ:  वीडियो--: श्री मां नयना देवी मंदिर के स्थापना दिवस पर विविध धार्मिक अनुष्ठान आयोजित । विशाल भंडारे में स्थानीय लोगों के अलावा बड़ी संख्या में पर्यटकों ने भागीदारी कर प्रसाद ग्रहण किया ।

 

परिषद के जनपदीय संरक्षक बहादुर सिंह बिष्ट ने कहा कि सरकार महंगाई भत्ते का लाभ देने में देरी न करें ।  परिषद के वरिष्ठ उपाध्यक्ष गिरजेश कांडपाल ने सरकार से आगामी कैबिनेट में कर्मचारियों की वेतन विसंगतियों एवं गोल्डन कार्ड के क्रियान्वयन में हो रही कठिनाइयों को भी दूर करने मांग की ।

 

परिषद के कोषाध्यक्ष दीपक बिष्ट तथा कुमाऊं विश्वविद्यालय नैनीताल डी एस बी परिषद के अध्यक्ष गणेश बिष्ट ने कहा कि प्रदेश कांग्रेस सरकार को महंगाई भत्ते के साथ-साथ कर्मचारियों को मिलने वाले अन्य भत्तो को भी केंद्र के समानांतर वृद्धि करनी चाहिए।

ALSO READ:  मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी कल 17 जून को नैनीताल आएंगे ।

परिषद के उपाध्यक्ष इसरार बेग, सहायक विकास अधिकारी संघ के जिला अध्यक्ष विनोद कुमार भट्ट, तनवीर असगर, आनंद सिंह जलाल, सत्य प्रकाश द्विवेदी राजेंद्र प्रसाद टम्टा, पीके शर्मा, गोपाल राम, कैलाश गिरी गोस्वामी, दिनेश चंद्र जोशी, संजय सिंह, आनन्द पाण्डे तथा भूपाल सिंह बिष्ट सहित कई ने कई कर्मचारियों ने प्रतिभाग किया ।

By admin

"खबरें पल-पल की" देश-विदेश की खबरों को और विशेषकर नैनीताल की खबरों को आप सबके सामने लाने का एक डिजिटल माध्यम है| इसकी मदद से हम आपको नैनीताल शहर में,उत्तराखंड में, भारत देश में होने वाली गतिविधियों को आप तक सबसे पहले लाने का प्रयास करते हैं|हमारे माध्यम से लगातार आपको आपके शहर की खबरों को डिजिटल माध्यम से आप तक पहुंचाया जाता है|

You cannot copy content of this page