नैनीताल । शासन के निर्देशों के क्रम में लोक सांस्कृतिक प्रतीक पारम्परिक उत्तरायणी पर्व 14 जनवरी से अयोध्या में श्रीराम मूर्ति प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम 22 जनवरी, 2024 तक जनपद में सांस्कृतिक उत्सव के रूप में मनाया जायेगा ।

 

अपर जिलाधिकारी पीआर चौहान ने बताया कि 14 जनवरी से 22 जनवरी 2024 तक जनपद में हर्षोल्लास के साथ सांस्कृतिक उत्सव मनाया जायेगा। सांस्कृतिक उत्सव मनाये जाने हेतु मुख्य विकास अधिकारी को नोडल अधिकारी तथा परियोजना निदेशक जिला ग्राम्य विकास एवं जिला पर्यटन अधिकारी को सहायक नोडल अधिकारी नामित किया है।

ALSO READ:  जिला बार एसोसिएशन ने किया तहसीलदार का घेराव ।

 

उन्होंने बताया कि पारम्परिक एवं पौराणिक मेले उत्सवों एवं पर्वों को एक उत्सव के रूप में मनाये जाने का प्रचलन रहा है, जो हमारी वैभवशाली परम्पराओं का प्रतीक है जिसे संजोये रखना प्रत्येक जनपदवासी का कर्तव्य है। उन्होंने कहा कि जनपद में विकास खण्ड स्तर पर समितियों का गठन कर धार्मिक स्थलों पर जनमानस की सहभागिता से कलश यात्रा एवं झांकियों का आयोजन किया जाए साथ ही महिला मंगल दल, युवक मंगल दल, सभी नगरीय निकायोें, जिला पंचायतो, विकास खण्डों एवं स्वयं सहायता समूहों की सहभागिता भी सुनिश्चित की जाए तथा जनपद के सभी मन्दिरों, देवालयों एवं समस्त नदी किनारे घाटों में विशेष स्वच्छता अभियान चलाया जाए।

ALSO READ:  स्थान्तरण सूची--: 39 एल आई यू इंस्पेक्टरों के तबादले । नैनीताल के संजीव तिवारी पिथौरागढ़ के मण्डलाधिकारी बने ।

 

उन्होंने कहा कि जनपद के समस्त मन्दिरों, देवालयों एवं घाटों में दीपोत्सव एवं आरती, भजन र्कीतन कार्यक्रम का आयोजन भी किया जायेगा।

By admin

"खबरें पल-पल की" देश-विदेश की खबरों को और विशेषकर नैनीताल की खबरों को आप सबके सामने लाने का एक डिजिटल माध्यम है| इसकी मदद से हम आपको नैनीताल शहर में,उत्तराखंड में, भारत देश में होने वाली गतिविधियों को आप तक सबसे पहले लाने का प्रयास करते हैं|हमारे माध्यम से लगातार आपको आपके शहर की खबरों को डिजिटल माध्यम से आप तक पहुंचाया जाता है|

You cannot copy content of this page