नैनीताल । 1971-72 में पाकिस्तानी सेना से युद्ध लड़े ऑनरेरी कैप्टन चन्दर सिंह गैड़ा का गुरुवार को 76 वर्ष की उम्र में निधन हो गया । वे वर्तमान में हल्द्वानी में पीलीकोठी हल्द्वानी के पास चन्द्रावती कालौनी में रहते थे ।

कैप्टन चन्दर सिंह गैड़ा की मां चन्द्रावती हैं । उन्हीं के नाम से इस कालौनी का नाम चन्द्रावती कालौनी पड़ा । पिछले वर्ष इसी स्थान से नैनीताल में मां नन्दा सुनन्दा की मूर्ति निर्माण हेतु कदली वृक्ष लाये गए थे ।

ALSO READ:  श्री माँ नयना देवी मंदिर का स्थापना दिवस समारोह शुरू । 15 जून को होगा मुख्य आयोजन ।

स्व.कैप्टन चन्दर सिंह गैड़ा के पारिवारिक सूत्रों के अनुसार गुरुवार को चन्दर सिंह गैड़ा बाथरूम में फिसल गए थे और उन्हें इलाज के लिये कृष्णा अस्पताल ले जाया गया । जहां उन्होंने दम तोड़ दिया ।  आज अपरान्ह में ही उनका रानीबाग स्थित चित्रशिला घाट में अंतिम संस्कार कर दिया गया । वे अपने पीछे पत्नी, पुत्र व पुत्री का भरा पूरा परिवार छोड़ गए हैं । स्व. चन्दर सिंह श्रीलंका शांति सेना का भी हिस्सा रहे हैं ।

ALSO READ:  रोडवेज कर्मचारी यूनियन भवाली ने 8 जून से हड़ताल का दिया अल्टीमेटम

उनके बड़े भाई खुशाल सिंह गैड़ा भी भारत पाकिस्तान युद्ध के सिपाही रहे हैं । उनके भतीजे मदन गैड़ा भारतीय मजदूर संघ के नेता हैं और बिड़ला स्कूल नैनीताल में सेवारत हैं ।

By admin

"खबरें पल-पल की" देश-विदेश की खबरों को और विशेषकर नैनीताल की खबरों को आप सबके सामने लाने का एक डिजिटल माध्यम है| इसकी मदद से हम आपको नैनीताल शहर में,उत्तराखंड में, भारत देश में होने वाली गतिविधियों को आप तक सबसे पहले लाने का प्रयास करते हैं|हमारे माध्यम से लगातार आपको आपके शहर की खबरों को डिजिटल माध्यम से आप तक पहुंचाया जाता है|

You cannot copy content of this page