हल्द्वानी संप्रेक्षण गृह की किशोरी द्वारा विभागीय अधिकारियों पर लगाये गए दुष्कर्म के आरोप पाए गए झूठे, अनुसेवक और होमगार्ड के निलंबन को किया गया निरस्त-रेखा आर्या

देहरादून: विगत दिनों हल्द्वानी स्थित सम्प्रेषण गृह में रह रही किशोरी ने विभागीय अधिकारियों पर अपने साथ दुष्कर्म की जानकारी दी गई जिसके बाद विभागीय मंत्री रेखा आर्या ने विभागीय स्तर पर एक जांच कमेटी का गठन किया गया,साथ ही सम्प्रेषण गृह में कार्यरत अनुसेवक और होमगार्ड को तत्काल प्रभाव से निलंबित भी किया गया।वहीं पूरे मामले की पुलिस के स्तर से भी सम्पूर्ण जांच की जा रही थी।

ALSO READ:  कैंची महोत्सव को सफल बनाने के लिये मजिस्ट्रेट व अधिकारियों की तैनाती की गई ।

विभागीय मंत्री रेखा आर्या ने जानकारी देते हुए बताया कि पूरे मामले की महिला कल्याण विभाग व पुलिस विभाग के द्वारा जांच की गई जिसमे उक्त किशोरी द्वारा अपने साथ दुष्कर्म किये जाने की घटना की बात पूरी तरह से झूठी निकली।जिसपर आज महिला कल्याण विभाग ने संप्रेक्षण गृह की महिला कर्मचारी दीपा और गंगा को निर्दोष पाते हुए दोनों की नियुक्ति को बहाल कर दिया है।

ALSO READ:  कैंची धाम स्थापना दिवस के मौके पर जिलाधिकारी नैनीताल से सार्वजनिक अवकाश घोषित करने की मांग । राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद की ऑन लाइन बैठक के बाद जिलाधिकारी व कुमाऊँ आयुक्त को भेजा गया ज्ञापन ।

साथ ही मंत्री ने जानकारी देते हुए बताया कि संप्रेषण गृह में रह रही किशोरी अपने घर जाना चाहती थी जिसके लिए उसके द्वारा दुष्कर्म की यह पूरी झूठी कहानी रची गई थी।किशोरी की मेडिकल रिपोर्ट में भी दुष्कर्म की कोई पुष्टि नही हुई।

By admin

"खबरें पल-पल की" देश-विदेश की खबरों को और विशेषकर नैनीताल की खबरों को आप सबके सामने लाने का एक डिजिटल माध्यम है| इसकी मदद से हम आपको नैनीताल शहर में,उत्तराखंड में, भारत देश में होने वाली गतिविधियों को आप तक सबसे पहले लाने का प्रयास करते हैं|हमारे माध्यम से लगातार आपको आपके शहर की खबरों को डिजिटल माध्यम से आप तक पहुंचाया जाता है|

You missed

You cannot copy content of this page