नैनीताल । सोमवार को कुमाऊं आयुक्त दीपक रावत आवारा पशुओं के लिये गौशाला निर्माण किये जाने सम्बन्धी जनहित याचिका की सुनवाई में कोर्ट में पेश हुए थे । जिसके बाद वे हाईकोर्ट से पैदल बाजार की तरफ निकल गए ।

 

मल्लीताल गोलघर चौराहे पर बी डी पांडे अस्पताल के नीचे स्थित सुलभ शौचालय का उन्होंने निरीक्षण किया । इस दौरान गोलघर चौराहे के पास सड़क में विद्युत विभाग द्वारा हाल में पोल गाड़ने व अब उसे उखाड़ने से वे नाराज हो गए । उन्होंने पोल उखाड़ने का काम रुकवाया और वे विद्युत विभाग के मल्लीताल पम्प हाउस के निकट स्थित उप खण्ड अधिकारी कार्यालय जा धमके । जहां उन्हें ए ई व जे ई नहीं मिले । पता चला कि ये अधिकारी साइट में हैं । किंतु आयुक्त इस जबाव से संतुष्ट नहीं थे । उन्होंने विभाग के अधिकारियों से इस मामले नें जबाव तलब किया है ।

ALSO READ:  अल्टीमेटम-: उत्तराखंड विश्वविद्यालय कर्मचारी महासंघ ने अपनी मांगों के निराकरण के लिये शासन को 31 जुलाई तक का समय दिया ।

कुमाऊं आयुक्त जब खड़ी बाजार से बाल्मीकि मंदिर वाली गली से जा रहे थे तो उन्हें दुकानदारों,रेस्टोरेंट स्वामियों द्वारा सड़क में सामान रखा मिला । उन्होंने साथ में चल रहे  राजस्व विभाग व नगर पालिका के अधिकारियों को इन व्यवसायियों का चालान करने के निर्देश दिया । इन व्यवसायियों पांच- पांच हजार रुपये का चालान किया गया ।

By admin

"खबरें पल-पल की" देश-विदेश की खबरों को और विशेषकर नैनीताल की खबरों को आप सबके सामने लाने का एक डिजिटल माध्यम है| इसकी मदद से हम आपको नैनीताल शहर में,उत्तराखंड में, भारत देश में होने वाली गतिविधियों को आप तक सबसे पहले लाने का प्रयास करते हैं|हमारे माध्यम से लगातार आपको आपके शहर की खबरों को डिजिटल माध्यम से आप तक पहुंचाया जाता है|

You cannot copy content of this page